बड़े भाई तेजप्रताप के तलाक की बात पर तेजस्वी ने कहा , ये मेरे परिवार की बात है

0
1035

परिवार में मचे तूफाने के बीच तेजस्वी यादव पिछड़ा-अतिपिछड़ा सम्मेलन में पहुंचे और मंच से ही विपक्षी दलों पर जमकर निशाना साधा। अपने संबोधन में तेजस्वी ने पारिवारिक विवाद को लेकर मीडिया और राजनीतिक महकमे में हो रही बयानबाजी पर तंज कसते हुए कहा कि आजकल लोग बिग बॉस ज्यादा देखने लगे हैं। कल पटना में इतनी बड़ी घटना हो गई लेकिन शाम होते ही कुछ और ही दिखाया जाने लगा।

तेजस्वी ने कहा कि ये मेरा पारिवारिक मामला है, इसपर इस तरह से मुद्दा नहीं बनाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस बारे में मैं क्यों बात करूं और क्या बात करूं? इस मामले में मीडियाकर्मियों के सवाल पूछने पर तेजस्वी यादव भड़क गए। उन्होंने कहा कि परिवार की चिंता आप लोग छोड़ दीजिए। परिवार के लोग समस्या का समाधान करेंगे।
मेरा परिवार जानेगा कैसे क्या करना है? पारिवारिक बात से किसी को क्या लेना देना है। आप बताइए आपका पारिवारिक रिश्ता कैसा चल रहा है?
तेजस्वी ने कहा कि हमें अपने परिवार की चिंता नही, गरीबों की चिंता है। कल इतनी बड़ी घटना हुई, दोपहर तक दिखाया जा रहा था , लेकिन शाम होते ही कुछ और दिखाया जाने लगा। किसी के परिवार में खाना बना की नहीं, किसने खाया? किसके घर में क्या हो रहा है? ये सारी निजी बातों को दिखाया जाने लगा। हमें कुछ नहीं देखना। मछली की आंख की तरह एक ही लक्ष्य है। एेसे लोगों को सत्ता से उखाड़ फेंकना, जो गरीबों के लिए कहते कुछ हैं और करते कुछ नहीं।

तेजस्वी ने चेतावनी देते हुए कहा कि किसी के भी परिवार के निजी और पारिवारिक बातों को मुद्दा मत बनाइए। अगर ऐसा होगा तो सीएम से लेकर पीएम तक नही बचेंगे।

उन्होंने कहा कि मेरे पिता लालू यादवजी ने हमेशा गरीबों की लड़ाई लड़ी है। अगर मेरे पिता सत्ता के लोभी होते तो आज तेजस्वी सीेएम होता। मैं अपने चाचा की तरह कुर्सी का मोह नहीं रखता। चाचाजी ने कहा कि मिट्टी में मिल जाएंगे भाजपा के पास नहीं जाएंगे और आज देख लीजिए कैसे गलबहियां कर रहे।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here