दरभंगा के मानस बिहारी वर्मा का बनाया तेजस होगा पहली बार होगा एयरो शो इंडिया में शामिल, देश की शान बिखरेगा अपने जलवे, मिथिला के लिए गौरव का क्षण।

0
2232

दरभंगा: भावना कंठ और मानस बिहारी वर्मा के रूप में देश के रक्षा क्षेत्र में दरभंगा का मान बढ़ा कर इतिहास रचा है । जहाँ भावना कंठ देश की पहली महिला फाइटर पायलट बन कर आकाश की बुलंदियों को छू कर दरभंगा का नाम फिर से इतिहास के पन्नो पर सुनहरे अक्षरों मे लिख दिया। वहीं मिसाइलमैन दिवंगत डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम के मित्र, दरभंगा जिले केे वैज्ञानिक डॉ. मानस बिहारी वर्मा के नेतृत्व में लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट तेजस बना। जिससे भारतीय वायुसेना को स्वदेश में निर्मित लड़ाकू विमान तेजस की ताकत मिल ही गई, और फाइटर प्लेन के निर्माण करने वाले कुछ चुनिन्दा देशों मे भारत का नाम भी जुड़ गया। यही तेजस अब एयरो शो इंडिया में अपने जलवे बिखेरेगा।

दरभंगा का देश की रक्षा मे रही है अहम भूमिका

दरभंगा का देश के रक्षा इतिहास से बहुत पुराना रिश्ता रहा है। बताते चलें की दरभंगा ऐविएशन का विमान जहां भारत के प्रधानमंत्री का पहला अधिकारिक विमान रहा, वहीं भारत चाइना वार के समय दरभंगा की सामरिक स्थिति को देखते हुए तत्कालीन दरभंगा महाराज कामेश्वर सिंह ने दरभंगा एयरपोर्ट को, युद्ध जरूरतों में देखते हुए भारतीय वायुसेना को दान किया‌ था।

बताते चलें की मौजूदा समय में वायुसेना के सामरिक जरूरतों को देख दरभंगा के इस वायु अड्डे को अति महत्वपूर्ण माना जाता है। इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए दरभंगा के मानस बिहारी ने जहां देश के लिए पहला लड़ाकू विमान तेजस को देश के लिए तैयार किया, तो वहीं दरभंगा की ही भावना कंठ पहली महिला फाइटर पायलट बनी।

तेजस बिखेरेंगा जलवे

दरभंगा के श्री मानस बिहारी वर्मा का बनाया तेजस अब फिर से सुर्खियों में है, जो जल्द ही एयरो इंडिया शो में अपने हैरतअंगेज करतबो से लोगों को दांतों तले उंगलियां दबाने को मजबूर कर देगा। फिलहाल तेजस को लेकर आयी बड़ी खबर से दरभंगा और आसपास में जश्न का माहौल है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here