देश की पहली प्राइवेट ट्रेन में मिलेगी हवाई जहाज जैसी सुविधा ट्रेन में यात्रियों को मिलेगा मुफ्त में 25 लाख का बीमा

0
19775

आईआरसीटीसी के प्रबंधन में निजी हाथों से चलने वाली देश की पहली कारपोरेट ट्रेन तेजस अक्टूबर के पहले सप्ताह में शुरू होगी। ट्रेन में वेटिंग टिकट वाले यात्री सफर नहीं कर सकेंगे। उन्हें टिकट निरस्त कराने पर पूरा पैसा वापस मिलेगा। सीटों की बुकिंग इसी माह शुरू होगी। विदेशी पर्यटकों के लिए एसी एक्जीक्यूटिव क्लास में पांच और एसी चेयरकार में 50 सीटें आरक्षित रहेंगी। ये बातें बुधवार आईआरसीटीसी के अध्यक्ष व एमडी महेंद्र प्रताप मल ने कहीं।

ट्रेन की तैयारियों को लेकर लखनऊ में बैठक

तैयारियों का आकलन करने आईआरसीटीसी(IRCTC) एमडी लखनऊ पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि ट्रेन सप्ताह में छह दिन चलेगी। मंगलवार को ट्रेन का संचालन नहीं होगा। ट्रेन में 60 दिन पहले एडवांस टिकट करा सकेंगे। टिकट केवल आईआरसीटीसी वेबसाइट से ही मिलेंगे। फरवरी, मार्च और अगस्त में किराया सस्ता रहेगा। ट्रेन में टिकट कराने की सुविधा ट्रेन छूटने के पांच मिनट पहले तक उपलब्ध होगी। ट्रेन का कुल किराया शताब्दी की तरह डायनेमिक होगा। हालांकि, उन्होंने अभी ट्रेन के चार अक्तूबर से दौड़ाने को लेकर कोई अधिकारिक पुष्टि नहीं की है। ट्रेन में व्हील चेयर की सुविधा भी रहेगी। प्राइवेट चेकिंग कर्मी मौजूद रहेंगे। प्राइवेट सिक्योरिटी भी ट्रेन में चलेगी। एमडी ने कहा कि ट्रेन के पूरे किराये और चलने के समय पर अभी विचार चल रहा है।

नास्ते और खाने की होगी व्यवस्था

एमडी ने बताया कि ट्रेन चलने पर यात्रियों को नाश्ता मिलेगा। दिल्ली पहुंचने से पहले भी नाश्ते की सुविधा दी जाएगी। कोच में चाय और काफी की वेंडिंग मशीनें होंगी। इनसे यात्री अनगिनत चाय और काफी पी सकेंगे, जबकि वापसी में यात्रियों को नाश्ते के साथ भोजन की सुविधा भी मिलेगी। इस ट्रेन में ऑन डिमांड सुविधा भी मिलेगी। जैसे वरिष्ठ नागरिकों को घर से लाने और गंतव्य तक पहुंचाने की भी सुविधा रहेगी। आईआरसीटीसी निजी ऑपरेटरों की मदद से यात्रियों का सामान उनके घर से लेकर गंतव्य तक पहुंचाएगा।

मुफ्त में मिलेगा 25 लाख का बीमा

ट्रेन में सफर करने वाले यात्रियों का 25 लाख रुपये का बीमा(Insurance) ई आरसीटीसी की ओर से मुफ्त होगा। वहीं दूसरी ओर ट्रेन में तत्काल/प्रीमियम तत्काल जैसे कोई टिकट नहीं होंगे। यात्रियों का टिकट निरस्त कराने पर टीडीआर भरने की जरूरत नहीं पड़ेगी। इसका पूरा रिफंड आईआरसीटीसी द्वारा होगा। ट्रेन निरस्त होने के समय आईआरसीटीसी की ओर से पूरा पैसा वापस होगा।

टिकट कंफर्म नही होने पर पैसा वापस होगा

ट्रेन में वेटिंग टिकट चार्ट बनने से पहले निरस्त कराएंगे तो 25 रुपये चार्ज देना होगा। चार्ट बनने के बाद टिकट कन्फर्म नहीं हुआ तो पूरा पैसा वापस होगा। टिकट कन्फर्म होने के समय निरस्त कराने पर भारतीय रेल के जैसे ही नियम लागू होंगे। जो साधारण ट्रेनों में लागू हैं। लखनऊ से नईिदल्ली लखनऊ जंक्शन सुबह 6.10 नई दिल्ली दोपहर 12.25 वापसी नई दिल्ली से लखनऊ नई दिल्ली 4.30 शाम लखनऊ जंक्शन 10.45 रात बजे पंहुचेगी ।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here