यूपी में होने वाली है एक शादी में खूबसूरत दुल्हन’ पर है STF की नजर,पड़ताल में जो कुछ निकला वह शादी से ज्यादा हैरान करने वाला था।

0
3916

पश्चिम उत्तर प्रदेश के खतरनाक अपराधियों में से एक अनिल दुजाना है। जिसकी जिंदगी सलाखों के पीछे गुजर रही है। वह इस डर में जमानत भी नहीं करा रहा है कि बाहर न जाने दुश्मन या पुलिस की किस गोली पर उसका नाम लिखा हो। ऐसे अपराधी से सूरजपुर कोर्ट में पूजा की सगाई और शादी पंजीकरण की अर्जी ने आम जनता के साथ पुलिस को भी हैरत में डाल दिया।

एसटीएफ जांच में जुटी कि ऐसे अपराधी से शादी को कोई लड़की या परिवार क्यों तैयार हुआ? पड़ताल में जो कुछ निकला वह शादी से ज्यादा हैरान करने वाला था। एसटीएफ की जांच में पता चला कि पूजा के पिता लीलू का बागपत में राजकुमार से चालीस बीघा जमीन को लेकर विवाद चल रहा है। राजकुमार ने दो बेटियों की शादी गाजियाबाद के रहने वाले कुख्यात बदमाश हरेंद्र खड़खड़ी व उसके भाई से कर दी, जिससे उसका पलड़ा भारी हो गया।

इससे पूजा के पिता ने राजकुमार को करार जवाब देने और अपना पलड़ा भारी करने के लिए हरेंद्र से भी बड़े बदमाश अनिल दुजाना को खोज लिया। उसके घर वालों के सामने शादी का प्रस्ताव रखा। जिसके नाम पर दूर-दूर के रिश्तेदार भी बेगाने हो रहे थे। इसकी जानकारी अनिल दुजाना को दी गई। वह भी तत्काल तैयार हो गया। फिर वकील के माध्यम से कोर्ट की इजाजत लेकर शुक्रवार को सूरजपुर कोर्ट परिसर में अनिल दुजाना और पूजा ने एक-दूसरे को अंगूठी पहनाकर सगाई की। एसटीएफ सीओ राजकुमार का कहना है कि अब अनिल दुजाना के अलावा पूजा का परिवार भी एसटीएफ की नजर में है।

हरेंद्र खड़खड़ी के पास भी गया था पूजा का रिश्ता

लीलू और राजकुमार के बीच भूमि विवाद के अलावा गैंगस्टरदामाद खोज के दौरान भी विवाद हो गया था। राजकुमार ने गाजियाबाद के हरेंद्र खड़खड़ी व उसके भाई से जब बेटियों की शादी की बात चलाई तो लीलू परेशान हो गया। वह भी हरेंद्र खड़खड़ी के पास पहुंच गया। उसने हरेंद्र के सामने पूजा का रिश्ता रखा। उस समय तक हरेंद्र और राजकुमार की बेटियों के बीच शादी की बात आगे बढ़ गई थी।

कोर्ट में मिले रणदीप और सुंदर भाटी के हाथ

शुक्रवार को सूरजपुर कोर्ट में अनिल दुजाना को दुल्हन मिलने के अलावा भी बड़ा घटनाक्रम हुआ। जानी दुश्मन माने जाने वाले सुंदर भाटी और रणदीप भाटी की भी उस दिन कोर्ट में पेशी थी। दोनों शुक्रवार को दुश्मन की बजाय दोस्त की तरह मिले। दोनों ने हाथ मिलाया। एक-दूसरे का हाल जाना।

अमिताभ यश (आइजी एसटीएफ) का कहना है कि अनिल दुजाना और पूजा के रिश्ते के पीछे जमीनी विवाद कारण है। इस कारण अब पूजा के परिजन पर भी एसटीएफ की नजर है। जिससे इस रिश्ते की आड़ में कोई
अपराधिक घटना को अंजाम न दे दिया जाए। 

यहां पर बता दें कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुख्यात बदमाशों में शुमार अनिल दुजाना शादी करने जा रहा है। जानकारी के मुताबिक, शातिर अपराधी अनिल दुजाना ने शादी के लिए कोर्ट से अनुमति मांगी है और इसकी इजाजत भी मिल गई है।

बता दें कि जुनपत में 2015 में हुए राजकुमार शर्मा व सरकारी गनर नितिन वर्मा हत्याकांड में अनिल दुजाना साजिश रचने का आरोपी है।

अनिल दुजाना ने किया था साहिबाबाद में शूट आउट

अनिल दुजाना गौतमबुद्धनगर जिले का रहने वाला है। उस पर 20 से ज्यादा हत्या, लूट, जानलेवा हमले कई मामले दर्ज हैं। वर्ष 2011 में अनिल दुजाना गैंग ने साहिबाबाद में एक शादी समारोह में शूट आउट किया था, जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई थी।

अनिल दुजाना गैंग के 8 बदमाश गिरफ्तार

इससे पहले एक सूचना के आधार पर शुक्रवार तड़के तड़के थाना दादरी पुलिस ने कुख्यात बदमाश अनिल दुजाना गैंग के शार्प शूटर राकेश, सोनू ,चतुर्भुज शर्मा , नीरज, मनीष शर्मा, सागर ,पवन कुमार गर्ग ,सुमित सहित 8 लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक, इनके पास से एक लाइसेंसी पिस्तौल, एक देसी तमंचा, चोरी की दो मोटरसाइकिलें, एक व्यापारी से लूटे गए 30 हजार रुपये में से 10 हजार रुपये तथा 100 कारतूस बरामद किए हैं। गिरफ्तार बदमाश लूट के बाद थाना दनकौर क्षेत्र में जाकर एक व्यक्ति की हत्या करने वाले थे। उक्त व्यक्ति की हत्या करने की सुपारी इन लोगों ने 20 लाख रुपये में ली है। उन्होंने बताया कि पकड़े गए बदमाश कुछ दिन पूर्व ही कुख्यात बदमाश अनिल दुजाना से जेल में जाकर मिल कर आए थे।

दुजाना गांव

सत्तर और अस्सी के दशक में भी दुजाना गांव सुर्खियों में रहा था। यहां के सुंदर डाकू का खौफ दूर-दूर तक था। उसके किस्से गांव के लोग गर्व से बताने में नहीं हिचकते। गांव वाले बताते हैं कि एक फौजी ने कैसे डाकू की राह पकड़ ली।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here