सुप्रीम कोर्ट ने एसएससी सीजीएल 17 के परिणामों पर रोक लगाई । छात्रों की जीत

0
854

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने एसएससी सीजीएल और सीनियर सैकंडरी लेवल 2017 के परीक्षा परिणाम पर रोक लगा दी है । इससे पूर्व एसएससी परीक्षाओं में धांधली को लेकर इसी साल फरवरी मार्च के महीने में दिल्ली के एसएससी दफ्तर के बाहर छात्रों ने बड़ी संख्या में प्रदर्शन किया था। सरकार द्वारा सीबीआई जांच के आदेश दिए जाने के बाद ही छात्रों ने हड़ताल वापसी लिया था ।

सुप्रीम कोर्ट का आदेश

सुप्रीम कोर्ट ने परिणामों पर रोक लगाते हुए स्पष्ट कहा कि कोर्ट ऐसा नहीं चाहेगी की, लोग एसएससी की परीक्षा में धांधली कर नौकरी में आए। कोर्ट ने स्पष्ट किया की निष्पक्ष परीक्षा हो और होनहार छात्र ही चयनित होकर सरकारी सेवाओं में आए। मालूम हो की सरकार द्वारा सीजीएल टियर 2 की परीक्षा की जांच सीबीआई को सौंपी थी। इन परीक्षाओं के बीच दिल्ली पुलिस द्वारा कई मौकों पर ऐसे रैकेट को पकड़ा गया जो कहीं और से बैठकर सॉफ्टवेयर की मदद से परीक्षा दिलवाते थे, ऐसे में एसएससी की निष्पक्षता पर सवाल उठते है। एसएससी के चेयरमैन अशिम खुराना ने कई बार कहा कि स्टाफ सलेक्शन कमीशन सभी परीक्षाएं निष्पक्ष तरीके से कराए गये थे, अब उन्हें भी जवाब देना होगा कि इतनी बड़ी धांधली हुई और वो चुप थे ।

प्रशांत भूषण छात्रों की आवाज़ कोर्ट में उठा रहे थे ।

प्रशांत भूषण ने कहा कि सीबीआई जांच की रिपोर्ट में ‘sify‘ वेंडर जो देश भर में एसएससी की परीक्षा आयोजित करा रही थी, उसे दोषी पाया गया है। फिलहाल परिणामों पर रोक लगा दी गई है, बहरहाल यह छात्रों की बड़ी जीत है ।

कब हुए थे सीजीएल एग्जाम

मालूम हो की सीजीएल टियर 1 को परीक्षा पिछले साल अगस्त में आयोजित की गई थी, और टियर 2 की परीक्षा इसी साल फरवरी में आयोजित की गई थी ।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here