पूर्णिया कोर्ट से मधेपुरा के बीच 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से होगा स्पीडी ट्रायल, 16 को प्रिंसिपल चीफ एवं डीआरम करेंगे ट्रायल

0
870

पूर्णिया से सहरसा आने वाली ट्रेनों के समय मे कमी आएगी और ट्रेनें तेज रफ्तार से चलेंगी। पूर्व मध्य रेलवे के प्रिंसिपल चीफ इंजीनियर और समस्तीपुर मंडल के डीआरएम 16 अक्टूबर को सहरसा से पूर्णिया कोर्ट तक रेलखंड का निरीक्षण करेंगे। प्रसिपल चीफ इंजीनियर आर. डी. रल्ह और डीआरएम अशोक माहेश्वरी सहरसा से सुबह 6 बजे निरीक्षण करते आठ बजे पूर्णिया कोर्ट पहुंचेंगे।

100 किमी प्रति घटे की रफ्तार से होगा स्पीडी ट्रायल


पूर्णिया कोर्ट से मधेपुरा तक 100 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से स्पीड ट्रायल किया जाएगा। स्पीड ट्रायल सुबह 8.30 बजे शुरू किया जाएगा। साढ़े 9 बजे मधेपुरा स्टेशन पहुंचेंगे। मधेपुरा के बाद सहरसा स्टेशन पहुंचकर निरीक्षण करेंगे। स्पीड ट्रायल के दौरान प्रिंसिपल चीफ इंजीनियर और डीआरएम देखेंगे कि 100 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से यह रेलखंड ट्रेन चलाने लायक नहीं है। सूत्रों की माने तो स्पीड ट्रायल के प्रिंसिपल चीफ इंजीनियर और डीआरएम की तैयार संयुक्त रिपोर्ट सीआरएस की स्वीकृति लेने के लिए भेजी जाएगी। सआरएस इस संयुक्त रिपोर्ट पर ही इस रेलखंड में ट्रेन की स्पीड बढ़ाने की सहमति दे देंगे या इस रेलखड का स्पीड ट्रायल निरीक्षण खुद सीआरएस करते 100 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से ट्रेन चलाने को हरी झंडी देंगे। साथ में सीनियर डीईएन कोर्डनेशन आर एन झा, सीनियर डीईएन थ्री मयंक अग्रवाल रहेंगे।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here