विशेष रिपोर्ट – साजिश के तहत बंद की गयी सीतामढ़ी-न्यू जलपाईगुड़ी (NJP) एक्सप्रेस !!

0
2786

सीतामढ़ी: यू तो सीतामढ़ी, दरभंगा,जयनगर से बंगाल की राजधानी कोलकाता जाने के लिए ट्रेनों की कोई कमी नही है। वही अगर किसी यात्री को बंगाल के एक अन्य महत्वपूर्ण शहर सिल्लीगुड़ी या न्यू जलपाईगुड़ी जाना हो तो बसें ही एक मात्र सहारा है, क्योकि पिछले एक साल से सीतामढ़ी न्यू जलपाईगुड़ी के बीच चलने वाली साप्ताहिक ट्रेन को रेलवे एक साल से हर महीने कैंसल करता रहा है। जिससे यात्रियों को भारी कठिनाइयों का सामना कर बसों से यात्रा करना पर रहा।

गौरतलब है की,इस खंड पर गाड़ी चलाने की काफी मांग होने पर ममता बनर्जी ने अपने रेल बजट 2011 के दौरान इस ट्रेन की घोषणा दरभंगा-न्यू जलपाईगुड़ी एक्सप्रेस के नाम से की थी, जिसे बाद में सीतामढ़ी की मांग को देखते 24 जुलाई 2013 से सीतामढ़ी तक विस्तारित किया गया। वही बाद में कई बार भारी भीड़ की वजह से इस ट्रैन अलग से स्लीपर कोच भी लगाए गया था। उस समय सप्ताहित से इस ट्रेन सप्ताह में तीन दिन चलाने की गुजारिश की गयी।

जिस खंड पर चल रही थी ट्रेन उस रुट पे कोई गाड़ी नही-

सीतामढ़ी न्यू जलपाईगुड़ी ऐसे रूट पे चल रही थी जहाँँ या तो एक्का- दुक्का ट्रेन थी, या तो कही कही से कोई ट्रैन नही थी।
सीतामढ़ी, दरभंगा से समस्तीपुर, बरौनी, बेगूसराय, कटिहार, किशनगंज हो न्यू जलपाईगुड़ी जाने के लिए अब कोई ट्रैन नही बची, फिलहाल अब एक मात्र ईस्ट वेस्ट कॉरीडोर फोर लेन हो बस ही सहारा रह गया यात्रियों के लिए।

जिम्मेदार कौन

रेलवे के एक कर्मचारी में नाम न बताने की शर्त पर बताया की इसके रेक का इस्तेमाल अन्य स्पेशल ट्रेन के लिए हो रहा, जिस वजह से इस गाड़ी को चलाने की अनदेखी की जा रही। वही इसका रेक शेयरिंग कोलकाता- दीघा पहारिया एक्सप्रेस के साथ है, जिसका नियमित परिचालन हो रहा ।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here