46 के हुए सोनू निगम, आइए जानते है इनकी जिंदगी से जुड़े कुछ किस्से ।

0
874

सोनू निगम आज अपना 46वा जन्मदिन मना रहे है ।हर तरह के गीत गाने की कला में माहिर अपनी आवाज से लोगों को दीवाना बनाने वाले सोनू निगम आज बॉलीवुड के सबसे महंगे और टॉप सिंगर्स में से एक हैं। उन्‍हें एक नेशनल और दो फिल्मफेयर पुरस्कार के अलावा कई अवार्ड मिल चुके है। मोहम्‍म्‍द रफी के गाने गाकर मशहूर हुए सोनू को रफी क्‍लोन भी कहा जाता है। सोनू का जन्म 30 जुलाई 1973 को फरीदाबाद में हुआ था। कई सुपरहिट और हर तरह की शैलियों में गाने वाले सोनू ने हिंदी के अलावा उड़िया, तमिल, पंजाबी, बंगाली, असामी, मलयालम, तेलुगु, और नेपाली जैसी बहुत सी अलग-अलग भाषाओं में गायकी की है।

सोनू निगम के जन्मदिन पर उसने जुड़ी कुछ अनसुनी बातें

⚫ भारत-पाक बंटवारे के बाद सोनू का परिवार भारत आया था, रिफ्यूजी के तौर पर वे फरीदाबाद के नेशन हट्स में रहने लगे। सोनू का जन्‍म यहीं हुआ, उस जगह एक पीपल का पेड़ था जिसके नीचे सांझा चूल्‍हे के तौर पर एक तंदूर लगता था, इस पर मोहल्‍ले की सभी महिलाएं खाना बनाती थीं और सब बैठकर वहीं खाते थे।

⚫ गायकी का हुनर सोनू निगम को अपने माता-पिता से मिला। बचपन से ही उनका रुझान संगीत की ओर था और महज 4 साल की उम्र में सोनू ने अपना संगीत करियर शुरू किया था। वो स्टेज प्रोग्राम में अक्सर मोहम्मद रफी के गाने गाते थे।

⚫ सोनू 19 साल की उम्र में पिता के साथ मुंबई पहुंचे। यहां उन्होंने क्लासिकल सिंगर उस्ताद गुलाम मुस्तफा खान से संगीत का प्रशिक्षण लिया। मुंबई पहुंचने के बाद सोनू निगम का सफर इतना भी आसान नहीं था। पैसे कमाने के लिए वो लगातार स्टेज शोज करते रहे।

⚫ सोनू निगम को पहचान तब मिली जब टी सीरीज ने उनकी आवाज में एलबम ‘रफी की यादें’ लॉन्च किया। सोनू ने बतौर सिंगर अपना करियर डेब्यू फिल्म ‘जानम’ से किया हालांकि यह फिल्म रिलीज नहीं हो सकी। इस बीच उन्होंने कई बी और सी ग्रेड फिल्मों में गाने गाए।

⚫ साल 1995 में सोनू निगम ने टीवी शो सारेगामा होस्ट किया। इस शो के बाद सोनू के करियर को एक नई उछाल मिली। इसी बीच वो टी सीरीज के मालिक गुलशन कुमार से मिले जिन्होंने सोनू को फिल्म ‘बेवफा सनम’ में गाने का मौका दिया।

⚫ एक म्यूजिक कंपनी से झगड़े के बाद सोनू निगम ने संगीत से सन्यास लेने की बात की थी। ट्विटर पर इसमें भी लोगों ने सोनू निगम का सपोर्ट किया था और अपना फैसला वापस लेने के लिए कहा था। जिसके बाद सोनू ने ये फैसला वापस ले लिया था।

⚫ सोनू ने एक्टिंग में भी हाथ आजमाया, उन्होंने साल 1983 के फिल्म बेताब में बतौर चाइल्ड एक्टर काम किया था और उसके बाद बॉलीवुड में उन्होंने बहुत सी फिल्में जैसे लव इन नेपाल’, ‘जानी दुश्मन- एक अनोखी कहानी’ और ‘काश आप हमारे होते’ फिल्मों में अहम भूमिका निभाई थी।

⚫ सोनू अपनी आवाज का उपयोग हॉलीवुड की कुछ फिल्मों को डबिंग करने के लिए भी किया है। जैसे हॉलीवुड की फिल्म रियो और अलादीन में उन्होंने अपनी आवाज डबिंग के लिए आजमायी।

⚫ उन्‍हें खाने में बटर पनीर, पनीर कोफ्ता, बटर चिकन, तंदूरी चिकन बहुत पसंद है। किस्‍मत और दीवाना जैसी सुपरहिट अलबम देने वाले सोनू आज अगर गायक न होते तो वैज्ञानिक या अंतरिक्ष यात्री होते।

⚫ सोनू फिटनेस फ्रीक हैं और ताइक्‍वांडो में प्रशिक्षित हैं। उनको अपने शो में मिमिक्री करने में बहुत मजा आता है। उन्‍होंने सात सालों के अफेयर के बाद मधुरिमा से शादी की है और उनके बेटे का नाम नेवान है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here