सीतामढ़ी जिले का इस उपलब्धि के लिए लिम्का बुक में दर्ज हुआ नाम, डीएम ने कहा जिलेवासियों के सहयोग से मिली उपलब्धि

0
768

एक तरफ सीतामढ़ी बाढ़ का दंश झेल रहा है वही दूसरी तरफ इस जिले से अच्छी खबर निकल कर सामने आ रही है। दरासल एक ही दिन में 103232 शौचालय के लिए गड्ढे खोदकर नया कीर्तिमान स्थापित किया है जिसके लिए इस उपलब्धि के लिए लिम्का बुक ऑफ रेकॉर्ड्स ने सर्टिफिकेट भेज कर सम्मानित किया।

दो-दो उपब्धियों के लिए लिम्का बुक में दर्ज हुआ जिलें का नाम


सीतामढ़ी के डीएम ने कहा यह उपलब्धि जिलेवासियों के सहयोग का है परिणाम। सीतामढ़ी में पिछले साल 11 जून 2018 को सुबह 6 बजे से रात 10 बजे तक एक लाख तीन हजार दो सौ बत्तीस शौचालय के लिए ल गड्ढा खोदा गया और इसके साथ ही 27 जून को एक ही दिन में 78245 लाभुकों के खाते में 93 करोड़ 89 लाख चालीस हजार रुपये प्रोत्साहन राशि के रूप में लाभुकों के खाते में में भेजी गई थी। इन दोनों उपलब्धियों को लिखते हुए लिम्का बुक ऑफ रेकॉर्ड्स के द्वारा एक सर्टिफिकेट भी जारी किया गया है। डीएम डॉ रणजीत कुमार सिंह ने समाहरणालय में पदाधिकारियो के साथ सर्टिफिकेट को ग्रहण किया।डीएम ने कहा कि यह उपलब्धि सीतामढ़ी के जिलेवासियों के सामूहिक प्रयास का ही परिणाम है,और इसे उन्हें ही समर्पित करता हूँ।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here