सीटों के बटवारे को लेकर एनडीए और महागठबंधन में घमासान !! पढ़े रिपोर्ट

0
667

पटना । लोकसभा चुनाव जैसे जैसे नजदीक अा रहा है, वैसे वैसे बिहार की राजनीति गरमती जा रही है । सीटों के को लेकर अभी से एनडीए और महागठबंधन में खीचतान शुरू हो गई है । एनडीए में पहले ही रालोसपा अपने बयानों से एनडीए को असहज कर रही है, वहीं दूसरी तरफ हम पार्टी के जीतनराम मांझी भी सीटों के बटवारे को लेकर बयान देकर सब को चोंका दिया है ।

जीतनराम मांझी की पार्टी हम को एक सीट मिलने का अनुमान

जीतनराम मांझी को छोटे दल के नेता होने के कारण सीटों के बटवारे का डर अभी से सता रहा है । पूर्व मुख्यमंत्री मांझी ने कहा की यदि उनकी पार्टी को सम्मान जनक सीटें नहीं मिली तो, वह लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे । महागठबंधन के हित के कारण उनकी पार्टी एक सीट पर चुनाव लडने के बजाए चुनाव से दूर रहकर समर्थन करेगी । बिहार में इस बात की चर्चा तेज है की महागठबंधन में सीटों के बटवारे का फार्मूला तय हो गया है । फिलहाल जीतनराम मांझी की पार्टी को मात्र एक सीट दिए जाने का अनुमान लगाया जा रहा है, जिसके बाद ही मांझी का यह बयान निकलकर सामने आया हैं। जीतनराम मांझी ने स्पष्ट किया है की, एक सीट पर लड़ने से अच्छा चुनाव से दूर रहकर बाहर से समर्थन देना होगा।

महागठबंधन दो फॉर्मूला पर सीटों के बटवारे पर विचार कर रहीं

महागठबंधन में इस बार सीटों को लेकर दो फॉर्मूला बनाया गया है । पहली अगर रालोसपा शामिल होती है महागठबंधन में, तब की स्थिति और दूसरी बिना रालोसपा के । इन दोनों फार्मूले में जीतनराम मांझी की पार्टी की एक ही सीट दिया जा सकता है, वहीं दूसरी ओर रालोसपा को 4 सीट मिल सकती है ।

एनडीए ने बिहार में 20-20 सीटों का फार्मूला तैयार किया

इधर एनडीए ने घटक दलों के बीच 20-20 सीटों के बटवारे का फार्मूला तैयार कर लिया है जिसमें बीजेपी को 20 सीटें, जदयू की 12, लोजपा को 5 और रालोसपा की 2 सीटें शामिल है । बची हुई एक सीट से रालोसपा के निलंबित सांसद अरुण कुमार को चुनाव में उतारने की बात की जा रही है ।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here