सहरसा-सुपौल के बीच ट्रेन सेवा बहाल होने से, करीब पांच लाख आबादी का आवागमन हुआ आसान।

0
563

सहरसा-सुपौल के ट्रेन सेवा शुरू हो जाने से कई गांव रेल नेटवर्क से जुड़ गए हैं। बताते चलें कि इससे लगभग पांच लाख की आबादी को फायदा पहुंचेगा। वहीं सहरसा-सुपौल रेलखंड के बरूआरी, परसरमा, जगतपुर, बरैल, बलहा, रकिया, अमहा, वीणा एकमा समेत अन्य गांवों के लोगों को अब काफी सहूलियत हो रही है।

ट्रेन बढ़ाने में लगेगा समय

मालूम हो कि इस रूट पर ट्रेनों की संख्या बढ़ने के बाद ही पूरी तरह राहत मिलेगी। इलेक्ट्रॉनिक सिग्नल सिस्टम से जुड़ने तक अभी फिलहाल सहरसा-सुपौल के बीच वन टाइम वनली सिस्टम के तहत केवल एक ट्रेन आवाजाही कर रही है। डीआरएम अशोक माहेश्वरी के अनुसार दो से तीन माह का समय लग सकता है ट्रेन की संख्या बढ़ाने में।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here