रेलवे ने कहा बिहार में एग्जाम होगा तो पेपर लीक हो जाएगा !! छात्र भड़के ।

0
1953

पटना: रेलवे 9 अगस्त से देश भर में ग्रुप सी (असिस्टेंट लोको पायलट और टेक्नीशियन) भर्ती की परीक्षा आयोजित करने जा रही है। बिहार के लाखों छात्रों का परीक्षा सेंटर इंदौर, हैदराबाद, चेन्नई, अहमदाबाद भेज दिया गया है, इन परीक्षाओं में बैठने वाले छात्र कई सालो से रेलवे की वेकेंसी का इंतजार कर रहे हैं। फॉर्म फिल करने के दौरान सरकार द्वारा परीक्षा फॉर्म की कीमत 500 रखी गईं थीं, जो की छात्र परीक्षा में उपस्थित होंने की स्थिति मे उनके बैंक खाते में राशि वापिस चली जाएगी।

छात्रों का आरोप।

देश भर और बिहार के छात्रों ने आरोप लगाया है कि नौकरी सरकार को देनी नहीं है, इसीलिए इतनी दूर परीक्षा केंद्र दे दिया गया है। बहुत से छात्रों का आरोप हैं की कई छात्रों की आर्थिक स्थिति इतनी अच्छी नहीं है कि अहमदाबाद, चेन्नाई या बैंगलोर जाकर परीक्षा दे सके ।

रेलवे का तर्क ।

रेलवे का कहना है कि बिहार में अच्छी सुविधा वाले एग्जाम सेंटर की कमी है, इसके अलावा पेपर लीक का भी डर रहता है। इसलिए कुछ दिब्यंगा विद्यार्थियों को छोड़ बाकी सभी आवेदनों के सेंटर को बिहार से बाहर कर दिया गया। बिहार के छात्रों ने नाराजगी जताते हुए कहा कि एग्जाम्स कंडक्ट कराने की क्या जरूरत जब रेलवे को पेपर लीक का डर सता रहा हो तो।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here