रेलवे के नए नियम से वेटिंग लिस्ट यात्रियों की कम हो जाएगी परेशानी, ज्यादा से ज्यादा कन्फर्म टिकट मिल सकेंगे ।

0
1005

रेल यात्रियों को सफर के दौरान सबसे बड़ी परेशानी होती है वेटिंग टिकट पर यात्रा करना । टिकट कन्फर्म न होने पर यात्रियों को मुसीबतों का सामना करना पड़ता है लेकिन अब रेलवे इससे राहत देने की तैयारी में जुट गया है । अगर चलती ट्रेनें में किसी ने टिकट कैंसल कराया तो वेटिंग टिकट वालो को सीट दी जाएंगी। रेलवे ने इसके लिए कमर कस ली है। जनवरी से चलती ट्रेन में अगर कोई टिकट कैंसल करता है तो इसकी जानकारी टीटीई के पास फौरन पहुंच जाएगी और जहां बर्थ खाली होगा उसे वेटिंग लिस्ट वाले यात्रियों को दी जाएगी । ट्रेनों में टीटीई को हैंड हेल्ड टर्मिनल दिए जाएंगे जो सीधे रेलवे के सर्वर से कनेक्ट होगा जो टिकट की हर अपडेट को टीटीई के पास पहुंचाता रहेगा । कुछ शताब्दी और राजधानी एक्सप्रेस में पायलट प्रोजेक्ट के रूप में इस मशीन का इस्तेमाल किया जा चुका है जल्द ही इस हैंड हेल्ड टर्मिनल को अन्य ट्रेनों में इस्तेमाल किया जाएगा

टिकट कैंसिल करने पर तुरंत टीटीई के पास पहुंचेगी जानकारी, वेटिंग लिस्ट वालो को होगा फायदा ।

ट्रेन के चार्ट बनने या किसी यात्री के ट्रेन छूटने की जानकारी तुरंत टीटीई के पास नहीं पहुंच पाती है । कई बार दो स्टेशनों की दूरी अधिक रहती है ऐसे में टीटीई दो स्टेशनों तक यात्री का इंतज़ार करता है फिर न आने की स्थिति में बर्थ वेटिंग यात्रियों को दे देता है ऐसी स्थिति में कई बार बर्थ खाली रहती है और किसी यात्री के काम भी नहीं अा पाती साथ साथ यात्रियों को परेशानी होती है लेकिन अब सर्वर से कनेक्ट रहने से कोई भी टिकट कैंसल हीने पर टीटीई को इसकी जानकारी तुरंत मिल जाएगी और कोई टिकट कैंसिल कराता है तो डेटा अपडेट हो जाएगा । ट्रेन खुलने पर टिकट जांच करने की तय सीमा को 50 मिनट से घटाकर 20 मिनट की जाएगी ताकि यात्रियों कि टीटीई का इंतज़ार नहीं करना पड़ेगा। एक साथ इतनी संख्या में हैंड हेल्ड टर्मिनल मुहैया कराना मुश्किल होगा इसलिए इसे दो चरणों में टर्मिनल दिए जाएंगे ।

पहले चरण में करीब 500 टीटीई तथा दूसरे चरण में करीब 8 हजार टीटीई को टर्मिनल दिए जाएंगे । दोनों चरणों के पूरा होने के बाद राजधानी, शताब्दी, दुरंतो और अन्य मेल एक्सप्रेस ट्रेनों के टीटीई के पास हैंड हेल्ड टर्मिनल उपलब्ध हो जायेगा जिससे यात्रियों को राहत मिलने की उम्मीद है ।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here