रेलवे ग्रुप सी एग्जाम सेंटर पर बिहार में राजनीति गरमाई । पढ़े पूरी रिपोर्ट ।

0
915

पटना आज बिहार के अलग अलग हिस्सों में जन अधिकार पार्टी द्वारा छात्रों के मुद्दे पर ट्रेनों को रोककर विरोध प्रदर्शन किया गया। 9 अगस्त से आयोजित होने वाली रेलवे की ग्रुप सी ( टेक्निकल) की परीक्षा के सेंटर्स दूर दिए जाने के वजह से सांसद की पार्टी ने छात्रों का समर्थन करते हुए 1 दिवसीय रेल चक्का जाम आयोजित किया था। रेल चक्का जाम को लेकर भारी संख्या आरा जं पर पुलिस की तैनाती कर दी गई थी । बिहार के अलग अलग हिस्सों में रेल रोककर केंद्र सरकार के फैसले के खिलाफ नारेबाजी की और सरकार से मांग रखी की छात्रों की मांग स्वीकार करते हुए परीक्षा केंद्र बिहार में ही दिया जाए। पूरे सहरसा, मधेपुरा सहित कई जगह ट्रेन रोकी गई और प्रदर्शन किया गया।

तेजस्वी यादव ने रेलमंत्री को पत्र लिखा ।

तेजस्वी यादव ने पत्र लिखकर ये मांग रखीं है की जल्द से जल्द छात्रों की मांगे मानी जाए। बहुत से गरीब छात्र है जो 2000 किमी की दूरी तय कर परीक्षा देने नहीं जा पाए । तेजस्वी ने 9 अगस्त से होने वाली परीक्षा को रद्द कर छात्रों को नए परीक्षा स्थल आवंटित किए जाने की मांग की, उन्होंने कहा की मांगे नहीं मानी गईं तो पूरे बिहार में आंदोलन करेंगे।

छात्रों का आरोप

9 अगस्त को आयोजित होने वाली परीक्षा को लेकर लाखो छात्र परेशान है। छात्रों ने आरोप लगाया की परीक्षा फॉर्म भरते समय रेलवे ने कहा था, जो परीक्षा में भाग लेगा उसकी राशि वापिस कर दी जाएगी। पटना, आरा, सहरसा, मधेपुरा, कटिहार समेत कई जिलों के ऐसे छात्र है, जिनका परीक्षा केंद्र अहमदाबाद, कोचीन, चेन्नई, पांडिचेरी, हैदराबाद और भारत के विभिन्न शहरों में दे दिया गया है। छात्रों ने कहा की उनके पास इतनी राशि नहीं है, की वह इन शहरों में जाकर परीक्षा दे सके। दूसरे राज्यो में परीक्षा केंद्र होने से लाखो छात्रों को डर सता रहा है, की उनका परीक्षा कहीं छूट ना जाए। मालूम हो की इस मुद्दे को लेकर लोकसभा में भी हंगामा हो चुका है ।

रेलवे की सफाई

रेलवे ने कहा कि कुछ ही छात्रों का परीक्षा केंद्र बाहर दिए गए है। जिन छात्रों ने देरी से फॉर्म भरा था, बस उनके ही परीक्षा केंद्र बाहर दिए गए । रेलवे एससी/एसटी छात्रों को रेल पास भी दे रही है, ताकि उन्हें परीक्षा केंद्र जाने में दिक्कत ना हो ।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here