हो जाइये सावधान !! बिहार में सार्वजनिक स्थलों पर धूम्रपान करना पड़ेगा भारी, एडीजी ने दिये कार्रवाई के आदेश, जानें क्या मिलेगी सजा ?

0
220

बिहार के सार्वजनिक स्थलों पर धूम्रपान करना आपको भारी पड़ सकता है. सार्वजनिक स्थलों पर धूम्रपान करने पर आपके खिलाफ जेजे एक्ट और कोटपा की धाराओं के तहत कार्रवाई की जायेगी. एडीजी सीआईडी विनय कुमार ने सख्त रवैया अपनाते हुए सूबे के सभी जिलों के पुलिस उपाधीक्षक (हेड क्वार्टर) को चालान काटने और जेजे एक्ट, कोटपा आदि की धाराओं के तहत कार्रवाई करने के आदेश दिये हैं. बिहार पुलिस तंबाकू के खिलाफ सघन अभियान चलायेगी. मालूम हो कि अवयस्कों को तंबाकू बेचने पर एक लाख रुपये जुर्माना अथवा सात साल की सजा का प्रावधान है. वहीं, तंबाकू निर्माता, थोक और खुदरा विक्रेताओं पर भी सख्ती की जायेगी. इसके लिए सभी जिलों को चालान काटने का भी लक्ष्य दिया गया है.


तंबाकू नियंत्रण में राज्य सरकार की तकनीकी सहयोगी संस्थान सीड्स और सीआईडी के संयुक्त तत्वावधान में एपेक्स सभागार मे हुई राज्यस्तरीय उन्मुखीकरण सह प्रशिक्षण कार्यशाला में पुलिस पदाधिकारियों को प्रशिक्षत करते हुए एडीजी ने सभी सरकारी एवं गैर सरकारी कार्यालयों एवं शैक्षणिक संस्थानों को तंबाकू मुक्त घोषित कराने को कहा. द यूनियन नयी दिल्ली के वरीय तकनीकी सलाहकार आशीष पांडेय, सीड्स के कार्यपालक निदेशक दीपक मिश्रा ने बताया बिहार में तंबाकू सेवन करनेवालों की संख्या 53.5% से घट कर 25.9% हो गयी है. कार्यशाला में सीआईडी के डीआईजी अशोक कुमार , सभी जिले के पुलिस उपाधीक्षक (मुख्यालय), तंबाकू नियंत्रण के राज्य नोडल पदाधिकार डॉ अजय कुमार शाही, सीड्स के कार्यक्रम पदाधिकारी एडवर्ड कैनेडी, सुनील कुमार चौधरी, नरेंद्र शाही, धर्मेंद्र सिंह ने हिस्सा लिया.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here