रक्सौल-नरकटियागंज सजधज कर सीआरएस के लिए तैयार, उत्तर बिहार के कई शहरोंं से दिल्ली की दूरी होगी कम।

1
8893

रक्सौल: दरभंगा-नरकटियागंज रेल खंड का रक्सौल-सिकटा-नरकटियागंज सैक्शन छोटी लाइन से बड़ी लाइन मे बदल कर तैयार हैं। कल रेलवे संरक्षा आयुक्त इस सैक्शन पर स्पीड ट्रॉयल करने रक्सौल मे होगें, इसके साथ ही दरभंगा-नरकटियागंज खंड पर ट्रेनों के परिचालन शुुुरू होने की उल्टी गिनती शुरू हो गई हैं। संरक्षा आयुक्त अपने तय कार्यक्रम के अनुसार सुबह आठ बजे रक्सौल से मोटर ट्रॉली से इस खंड का निरीक्षण करते हुए सिकटा होते हुए नरकटियागंज पहुँचेंगे, जहां से स्पीड ट्रॉयल कर वह विशेष ट्रेन से वापस रक्सौल आयेंगे।

पूरे क्षेत्र मे उत्सव जैसा माहौल

कल होने वाले सीआरएस के लिए नरकटियागंज, रक्सौल, गौखुला और सिकटा मे त्यौहारों जैसा माहौल हैं। अब जब चार साल बाद एक बार फिर से ट्रेन दौड़ेने को तैयार हैं, तो लोगों की खुशी छुपाए नहीं छुप रही हैं। सीआरएस पूरा होते ही यह खंड भारत से सीधा जुड़ जायेगा और लोगों को ट्रेन पकड़ने रक्सौल और नरकटियागंज नहीं जाना होगा। सीधा रास्ता होने के कारण यह खंड भविष्य मे बहुत अहम मार्गों में से एक होगा, जो दिल्ली और गोरखपुर को उत्तर बिहार के कई शहरो से सीधा जोड़ेगा।

याद आयेंगी छोटी लाइन

कभी दरभंगा नरकटियागंज ट्रंक लाइन थी और यह रेलवे के लिए अतिमहत्वपूर्ण भी थी। पर अन्य लाइनों के बड़ी लाइन में बदलने और इसके छोटी लाइन रह जाने के कारण इसकी अहमियत घटती रही। छोटी लाइन और गंडक एक्सप्रेस का सफर लोगों को आज तक याद है, और इसकी यादे आखिरी सांसों तक इसमें सफर करनेवाले लोगों के जेहन मे बसी रहेगी। फिलहाल दिल्ली तक का यह नया रास्ता खोलेगी, जो दरभंगा-दिल्ली की दूरी 100किलोमीटर तक कम करेंगी। उत्तर बिहार के दरभंगा, समस्तीपुर, सीतामढ़ी सहित कई शहरों की गौरखपुर तक सीधी सेवा भी बहाल होगी और लोको रिवर्सल का समय भी बचेंगा।

1 कमेंट

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here