नेपाल ने भारत से जयनगर जनकपुर रेललाइन के लिए ट्रेनें खरीदने की प्रक्रिया शुरू की ।

0
2537

नेपाल ने जयनगर जनकपुर रेल लाइन में ट्रेन चलाने के लिए भारत से नई ट्रेनें खरीदने के लिए भारतीय कंपनियों से संपर्क किया है। नेपाल सरकार ने पिछले महीने की 13 तारीख को भौतिक अवसंरचना एवं परिवहन मंत्रालय के अंतर्गत रेलवे विभाग को यह आदेश दिया था की रेल खरीद प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जाए। नेपाल के रेलवे विभाग ने भारत सरकार के पास रेल खरीदने संबंधी प्रस्ताव भेजा था जिसके बाद कुछ भारतीय कंपनियों ने अपनी रुचि दिखाई है। नेपाल सरकार ने दो ट्रेनें खरीदने के लिए 500 मिलियन आवंटित किए है लेकिन रेलवे विभाग के अनुसार दो ट्रेनों के खरीद की लागत 1.5 बिलियन आएगी ।

जयनगर और जनकपुर के बीच ट्रायल किया जा चुका हैं।

35 किमी लंबे जयनगर और जनकपुर नई रेल लाइन के बीच ट्रेनों का ट्रायल किया जा चुका है। ट्रेनों की खरीद प्रक्रिया पूरी नहीं होने के कारण इस रेलखंड पर ट्रेनों का परिचालन नहीं किया जा सका। जयनगर जनकपुर बर्दीवास कूर्था रेल लाइन की लंबाई 69 किमी है जिसमें पहले फेज में ‍जयनगर से जनकपुर तक ट्रेन चलाई जाएगी।

अयोध्या से जनकपुर के बीच ट्रेन चलाने की योजना

सरकार की राजा जनक की राजधानी जनकपुर से अयोध्या तक ट्रेन को चलाने की योजना है, जिसे जयनगर- दरभंगा हो सीतामढ़ी के रास्ते चलाया जा सकता हैं। इसके अलावा दिल्ली से दरभंगा और पटना हो जनकपुर तक राजधानी जैसी ट्रेनों के द्वारा भी कनेक्टिविटी बहाल किया जायेगा। इसके अलावा इस रूट का इस्तेमाल समानों के निर्यात के लिए भी किया जायेगा, जिससे आर्थिक गतिविधियों के कारण आसपास के इलाके आत्मनिर्भर होगें

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here