बिहार में चमकी बुखार का बढ़ता जा रहा प्रकोप, अब तक 125 बच्चों की हो चुकी मौत।

0
1080

मुजफ्फरपुर और इसके आसपास के जिलों में चमकी बुखार का प्रकोप दिनों-दिन बढ़ता ही जा रहा है। बताते चलें कि चमकी बुखार ने सैकड़ों बच्चों की जान ले ली है। भीषण गर्मी जानलेवा कहर बनकर टूट पड़ा है। AES(एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम) धीरे-धीरे अपना पांव दूसरे ज़िले में भी फैला रहा है।

मुजफ्फरपुर के बाद पूर्वी चंपारण भी बुखार की गिरफ्त में

मालूम हो कि मुजफ्फरपुर के बाद पूर्वी चंपारण में भी चमकी बुखार से बच्चों की हालत गंभीर हो रही है। तथा इसमें इजाफा होता जा रहा है। यहां 36 बच्चें में इस बीमारी की पुष्टि हुई है। जहां इन सब का इलाज पूर्वी चंपारण और मुजफ्फरपुर में अलग-अलग प्राइवेट अस्पतालों में कराया जा रहा है। इस बीमारी से अब तक 125 बच्चों की मौत हो चुकी है जिसमें अकेले मुजफ्फरपुर में इस बीमारी से 101 बच्चों की जान चली गयी।

ऐसे सावधानी बरत कर सुरक्षित रखे बच्चों को

फिलहाल बता दें कि अपने बच्चों को चमकी बुखार से बचाने के लिए गर्मी में विशेष सावधानी बरतने की जरूरत है। जिसमें बच्चों को ज्यादा से ज्यादा पानी पिलाएं। इससे वो पूरे दिन हाइड्रेट रहेंगे। तेज धूप और उमस से बचा कर रखे, क्योंकि इस सब का असर उनपर जल्दी होता है। इस मौसम में बच्चों को दो बार नहलायें। साथ ही चीनी, नमक और पानी का घोल बनाकर पिलाएं। इन सब उपायों को अपनाकर बुखार से बचा जा सकता है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here