मुजफ्फरपुर बालिका अल्पावास गृह मामले की जांच सीबीआई से, झुकी बिहार सरकार । पढ़े पूरी रिपोर्ट

0
423

मुजफ्फरपुर: मुजफ्फरपुर अल्पावास गृह कांड की जांच विपक्ष और मीडिया के दबाव के कारण सीबीआई को सौंप दिया गया है। आज बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस मामले की सीबीआई से कराने की सिफारिश केंद्र सरकार को भेज दी है । आज मुख्यमंत्री द्वारा जारी किए गए आदेश में बिहार के प्रधान सचिव,प्रधान गृह सचिव और बिहार पुलिस के डीजीपी ने गृह कांड की जांच सीबीआई को सौंपने की बात कही।

विपक्ष का आरोप ।

बुधवार की शाम तक सीबीआई जांच खारिज करने वाली बिहार सरकार एक कदम पीछे खींचते हुए सीबीआई जांच की मांग के लिए मानने के पीछे बड़ा कारण इस मुद्दे पर विपक्ष को समर्थन मिल रहा था । विपक्ष इस मुद्दे के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर के मुख्यमंत्री और उपमुख्मंत्री के साथ संबंध होने का आरोप लगा रही थी। जब मंजू देवी के पति का नाम इस मामले से जुड़ा तो मुख्यमंत्री के पास सरकार की साख बचाने का बस एक ही जरिया बचा था सीबीआई जांच कराना ।

मंजू वर्मा का आरोपों से खंडन

हालाकि मंजू वर्मा ने इन आरोपों का खंडन करते हुए कहा कि वह अपने पति के साथ 2016 मे वह अपने पति के साथ बालिका अल्पावास गृह गई थी , तब से कभी भी वह और उनके पति वहा नहीं गए । लेकिन इस मामले की मुख्य आरोपी बालिका गृह के सीपीओ की पत्नी ने आरोप लगाया है कि इस कांड में मंजू वर्मा के पतिं खुद शामिल है । विपक्ष ने इस मामले को विधानसभा में उठते हुए मंजू वर्मा के इस्तीफे की मांग की और साथ ही मंजू वर्मा के पति को आरोपी बनाए जाने के लिए अध्यक्ष से अपील की ।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here