मायवती ने कहा भगवान राम की मूर्ति लग सकती हैं तो मेरी क्यों नही??

0
260

सुप्रीम कोर्ट ने लखनऊ स्थित अंबेडकर पार्क में मायावती द्वारा अपनी मुर्तिया लगाए जाने पर कड़ा रुख अख्तियार किया था जिसका जवाब देते हुए मायावती ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर किया है जिसमे कहा है कि भगवान राम की मूर्ति लग सकती है तो मेरी क्यों नही। मायावती ने कहा है कि जनभावनाओं को देखते हुए उनकी मूर्तियां अंबेडकर और कांशीराम के साथ के साथ लगाई गई है और ये कैबिनेट के फैसले के बाद हुआ था।

मायावती ने अजीबोगरीब दलील दी

मायावती ने कहा कि उन्होंने अपने समाज के लिए कभी शादी नही की और पूरी जिंदगी बहुजन समाज के साथ जुड़ने का फैसला किया, इसलिए उनकी मूर्तियां लगाना जायज है। मायावती ने कहा कि सिर्फ उनकी मूर्तियों को निशाना बनाये जाने को राजनीति से प्रेरित बताया और कहा कि देश के अन्य हिस्सों में सरकारी खर्च पर मूर्तियां स्थापित की गई उनपर कोई सवाल नही कर रहा।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here