मास्टरप्लान के तहत महानगरों के जैसे विकसित होंगे बिहार के ये पांच शहर

0
5617

पटना: बिहार शहरों के आधारभूत ढांचे और मूलभूत सुविधाओं के विकास को अब नयीं दिशा मिलेंगी। शहरीकरण के नाम पर फिसड्डी रहा बिहार, अगले कुछ सालों में कुछ बेहतरीन शहरों और नागरिक ढ़ाचे के लिए जाना जायेगा। बिना प्लानिंग के शहरों में हो रहे निर्माण और दिन प्रतिदिन सिकुड़ते सड़क ने समस्या अब बीते दिनों की बात होगी। फिलहाल वर्षों से महसूस की जा रही मास्टर प्लान की जरूरत पर हो रहे विचार विमर्श से आगे बढ़ते हुए, नगर विकास विभाग ने इसको लेकर नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। इसी को लेकर दरभंगा, पूर्णिया, बेगूसराय, मुंगेर और छपरा का आयोजन क्षेत्र का निर्माण कर इनका विकास किया जायेगा।

मास्टरप्लान से मिलेगा इन शहरो को नया स्वरूप।

नये मास्टर प्लान के अनुसार शहर का अगले 20 वर्षों की रूपरेखा तैयार कर, उसका योजनाबद्ध तरीकों से विकास किया जायेगा। इसके तहत बिल्डिंग बॉइलोज के तहत नये आयोजन क्षेत्र में मास्टर प्लान के साथ पांच शहरों का विकास होगा। मालूम हो की नये आयोजन क्षेत्र में कई महत्वपूर्ण हिस्सों का इन शहरों के अंदर प्रवेश हो जायेगा। मास्टर प्लान के तहत शहर में योजनबद्ध तरीकों से मकानों, सड़को, पेयजल हेतु पाइपलाइन, स्ट्रीट लाइट, ड्रेनेज सिस्टम, फलाइ ओवर जैसी चीजों को शहरी जरूरत के अनुसार विकसित कर, शहर को महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचे से लैंस किया जायेगा।

यह होगा इन शहरों का नया आयोजन क्षेत्र।

छपरा की बात करें तो कुल 65 राजस्व ग्राम नये क्षेत्र में शामिल किया जायेगा, पूर्णियां से कुल 151 राजस्व ग्राम, दरभंगा से कुल 186 राजस्व ग्राम, मुंगेर से कुल राजस्व ग्राम 147, तो वहीं बेगूसराय से कुल राजस्व 282ग्राम नये आयोजन क्षेत्र के तहत शहर मे शामिल किया जायेगा। छपरा का नया क्षेत्रफल 101.09 वर्ग किमी में फैला होगा, जिसमें 78.90 वर्ग किमी के रूप में नये क्षेत्र को प्लानिंग एरिया के तहय जोड़ा गया हैं। पूर्णिया का क्षेत्रफल 616.73 वर्ग किमी का होगा, जहां 514.87 वर्ग किलोमीटर का नया क्षेत्र शहर से जुड़ेगा। मुंगेर का नया क्षेत्रफल 162.21 वर्ग किमी होगा, जहां 134.10 वर्ग किमी तक नये क्षेत्र का विस्तार शामिल है। बेगूसराय की बात करें तो इसका नया क्षेत्रफल 619.93 वर्ग किमी का होगा, जिसमें 509.93वर्ग किमी शहर मे नये क्षेत्र के तौर पर शामिल होगा। दरभंगा का नया क्षेत्रफल 191.11 वर्ग किमी का होगा, जिसमें 171.28वर्ग किलोमीटर का जुड़ाव होगा।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here