भागलपुर में 45 करोड़ से एलएचबी कोच मेंटेनेंस यार्ड का निर्माण कार्य शुरू

0
1216

भागलपुर: रेलवे के जर्मन तकनीक आधारित लिंक हॉफमेन बुश कोचों की रखरखाव का काम अब भागलपुुर में ही हो सकेंंगा। इसके लिए रेलवे ने जंक्शन पर पूर्वी भारत का अत्याधुनिक यार्ड के निर्माण का कार्य शुरू कर दिया हैं। इसके निर्माण के साथ ही एलएचबी कोचों के रखरखाव का कार्य भागलपुर मे ही हो सकेंगा।

45 करोड़ो की लागत से तैयार होगा एलएचबी कोंचिग कॉम्प्लेक्स

लिंक हॉफमेन बुश तकनीक पर आधारित इन कोचों के लिए कोचिंग कॉम्प्लेक्स यार्ड बना कर इन का रख रखाव किया जायेगा। पूरी योजना की लागत 45 करोड़ रखी गयीं है,जिसमे रेल मंत्रालय से मंजूरी के बाद चालू वित्तीय वर्ष में करीब 25 करोड़ से निर्माण शुरू हो चुका है। मालूम हो की रेलवे अपनी आईसीएफ कोचों को धीरे धीरे वापस ले कई ट्रेनो को एलएचबी में परिवर्तित कर रही हैं। भविष्य मे भारत की सारी ट्रेनें एलएचबी कोचों के साथ दौड़ाने की योजना हैं। इस को देखते हुए भागलपुर स्थिति रेलवे जंक्शन परिसर में अत्याधुनिक एलएचबी यार्ड के निर्माण के कार्य को भविष्य की दृष्टि से अति महत्वपूर्ण माना जा रहा हैं।

पटना की कंपनी कर रही हैं तैयार

भागलपुर के मालगोदाम रेलवे क्षेत्र को एलएचबी कोच मेंटेनेंस यार्ड के रूप मे विकसित करने का कार्यय पटना की ही डब्ल्यूपीओबी कंपनी कर रही है। इस यार्ड को अत्याधुनिक मशीनों और सुविधाओं के साथ तैयार करने की योजना है, जिससे एलएचबी कोचों का बड़े पैमाने पर देखरख और रखरखाव किया जा सके। फिलहाल रेलवे का दावा हैं, की इसे 2019 के मार्च तक तैयार कर लिया जायेगा।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here