भारत-नेपाल मैत्री ट्रेन के परिचालन का रास्ता हुआ साफ,प्रधानमंत्री मोदी दिखा सकते है हरी झंडी, उद्घाटन कि तैयारियां जोर-शोर से शुरू।

0
3725

भारत-नेपाल के बीच ट्रेन चलने की प्रबल संभावना तेज हो गई है। बता दें कि इस साल के सितंबर-अक्टूबर तक ट्रेन परिचालन आरंभ हो जाने की उम्मीद है। इसको लेकर नेपाल के विदेश मंत्रालय द्वारा भारतीय दूतावास के माध्यम से पीएम को निमंत्रण भेज दिया गया है। जहां यह उम्मीद की जा रही है कि भारत-नेपाल के पीएम संयुक्त रूप से मिलकर हरी झंडी दिखाकर मैत्री ट्रेन के परिचालन की शुरुआत करेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत और नेपाल के बीच पहली ट्रेन को दिखा सकते है हरी झंडी, इसको लेकर रेलवे तैयारियों में जुट गया है।

सात अरब इंडियन रुपए खर्च किए जाएंगे

मालूम हो कि भारत-नेपाल मैत्री ट्रेन जयनगर से वर्दीवास -59 किलोमीटर तक ब्राॅडगेज रेल निर्माण में सात अरब इंडियन रुपए खर्च होने की संभावना है। जिसका निर्माण इरकाॅन कंपनी के तहत हो रहा है। बता दें कि इसे ले नेपाल में कर्मचारियों की बहाली प्रक्रिया भी शुरू हो गई है।

उद्घाटन को लेकर नेपाल रेलवे कर रही तैयारियां शुरू

भारत से नेपाल का रेल संपर्क जुड़ जाने से सीमा क्षेत्र के लोगों को बहुत फायदा पहुंचेगा। बता दें कि एक-दूसरे देश के लोग व्यापार, शादी-ब्याह जैसे अन्य कार्यों के लिए आना-जाना करते हैं। जयनगर-जनकपुर-कुर्था का सफर लोग डेढ़ घंटे में तय कर पाएंगे। इससे समय की बचत होगी, तथा व्यापारिक लेन-देन भी बढ़ेगा। उद्घाटन को लेकर नेपाली रेलवे जोर-शोर से तैयारी कर रही है। जहां कोंकण रेलवे ने ट्रेन भेजने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here