जयनगर- जनकपुर तक पहली बार चली ब्रॉड गेज ट्रेन, दरभंगा हो जुड़ गया पहला अंतरराष्ट्रीय रेल मार्ग

0
6456

जयनगर: ब्रॉडगेज मालगाड़ी पहली बार नेपाल रेलवे लाइन पर पहुँच ही गयी, इसके साथ ही दरभंगा से आने वाली रेल लाइन का जयनगर स्थित नेपाली रेल लाइन से इंटरलॉकिंग का कार्य पूरा कर लिया गया। फिलहाल इन मालगाड़ियों द्वारा ट्रैक पर ब्लास्ट गिराने का काम जारी है, जिसके बाद जल्द ही इस को तैयार कर इस पर ट्रेनों के परिचालन की शुरुआत कर दी जायेगी।

नेपाल के जनकपुर से जुड जायेगा भारत

मालूम हो की पहले चरण मे रामायण में अति महत्वपूर्ण स्थान रखने वाली राजा जनक की नगरी तक रेल लाइन तैयार करने का काम जोरो पर हैं, इसके तहत जनकपुर से जयनगर के 38 किलोमीटर खंड पर ब्रॉडगेज लाइन बिछाई जानी है। रेलवे लाइन के अलावा स्टेशनों को भी फिर से तैयार किया जा रहा है, साथ ही सिगनलिंग और अन्य कार्यों के निष्पादन की भी योजना हैं। इसी के तहत पिछले महीने इंटरलॉकिंग से संबंधित कार्य जयनगर मे शुरू किया था। इंटरलॉकिंग के बाद ब्लास्ट ले समस्तीपुर दरभंगा जयनगर हो मालगाड़ी नेपाल के रेल खंड तक पहुँची हैं, जिसके साथ ही यह खंड भारत के साथ जुड़ गया हैं। कुछ साल पहले तक नेंंरो गेज वाले इस खंड को आमान परिवर्तन योजना के तहत ब्रॉडगेज मे परिवर्तित किया जा रहा है।

नेपाल हो चल सकती है राजधानी जैसी ट्रेन

अगले साल से भारत-नेपाल के बीच अंतरराष्ट्रीय रेल सेवा शुरू हो जानी हैं, भारत इसके लिए शुरुआत मे दो डीएमयू ट्रेन और लोको पायलट नेपाल देगा। फिलहाल लोको पायलट किराये पर दिये जाने की योजना है, जो इन डीएमयू ट्रेन का नेपाल में परिचालन करेंगे। साथ ही भारत नेपाल के रेल कर्मचारियों को भारत मे प्रशिक्षण भी देंगा। भविष्य मे राजधानी जैसी प्रीमियम ट्रेनों का भी दरभंगा हो नेपाल और दिल्ली के बीच परिचालन की संभावना है, जिसकी मांगा को ले नेपाल के अधिकारी भारत सरकार के उच्च अधिकारियों और सरकार से पहले ही बात कर चुके हैं। मालूम हो की अगले चरण मे ट्रेनों का विस्तार नेपाल के वर्दीवास तक करने की भी योजना है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here