मेडिकल की सफलता के बाद दरभंगा स्थित ग्रे मैटर इंस्टिट्यूट अब लेकर कर आ रहा है आईआईटी जेईई के बैच, 2 फरवरी को आयोजित होगा एडमिशन कम स्कॉलरशिप टेस्ट

0
270

दरभंगा स्थित ग्रे मैटर मेडिकल और नीट परीक्षा की कोचिंग के तौर पर अपार सफलता के बाद इस वर्ष से आईआईटी जेईई की कोचिंग क्लासेज शुरू करने जा रहा है।खानकाह चौक और नाग मंदिर के बीच स्थित शहर के प्रतिष्ठित मेडिकल कोचिंगग्रे मैटर:-ए प्रीमियर इंस्टिट्यूट फॉर नीट/एम्स में छात्र अब आईटीआई सहित देश के विभिन्न इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी कर पाएंगे। एक ही कोचिंग में अब छात्रों को मेडिकल के साथ साथ इंजीनियरिंग की प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी कर अपने सपनों को साकार कर पाएंगे। 2 फरवरी को ग्रे मैटर आईआईटी और इंजीनियरिंग की प्रवेश परीक्षाओं के लिए स्कॉलरशिप कम एडमिशन टेस्ट का आयोजन करेगा। इस परीक्षा में छात्रों को अच्छा प्रदर्शन करने पर स्कॉलरशिप दी जाएगी। आईआईटी, एनआइटी, और मेडिकल की सर्वश्रष्ठ मेंटर्स की देख रेख में भविष्य के आईआईटीयन और डॉक्टर तैयार किये जायेंगे।

जूनियर बैच के लिए शुरू होगा Nurture Division.

नीट 2019 में टारगेट बैच के 55 में से 55 छात्रों ने नीट में क्वालीफाई किया, तथा 9 छात्रों को सरकारी मेडिकल कॉलेज मिला। पेरेंट्स की डिमांड पर इस वर्ष से आईआईटी और इंजीनियरिंग की प्रवेश परीक्षाओं सहित जूनियर सेक्शन के लिए क्लास 8, 9 और 10वी की भी बच्चो के लिए क्लासेज शुरू की जायेंगी। जूनियर सेक्शन जिन्हें Nurture Division में रखा जाएगा जहां छात्र अभी से कॉम्पिटिशन और प्रवेश परीक्षाओं की तैयारियों के अनुकूल खुद को ढाल सकेंगे जिससे 11वी और 12वी में जाने के बाद उन्हें दूसरे बच्चों से इनकी तैयारी अलग और बेहतर होगी। आईआईटी और मेडिकल के लिए एडमिशन कम स्कॉलरशिप टेस्ट 12 जनवरी और 2 फरवरी को आयोजित की जायेगी।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here