मुजफ्फरपुर की घटना के बाद अब गोपालगंज से सामने अा रही है बात । पढ़े रिपोर्ट ।

0
644

पटना/गोपालगंज : बिहार के मुजफ्फरपुर से बालिका अल्पगृह कांड के मामले में नीतीश कुमार के सुशासन पर सवाल उठ रहे है। पूरे देश में बिहार की बदनामी ही रही है अब एक नए मामले ने सरकार की मुश्किल बढ़ा दी है।

गोपालगंज शेल्टर होम से 2 लड़कियां लापता

गोपालगंज के जादोपुर रोड स्थित सरेया वार्ड में संचालित अल्पावास गृह से दो लकड़ियां के पिछले 9 महीने से गायब होने का मामला सामने आ रहा है। पूरी घटना में सबसे बड़ी बात सामने निकलकर अा रही है की, इस मामले में गुमशुदगी की रिपोर्ट भी दर्ज नहीं कराई गई।

लोगो का लड़को के आने का आरोप

स्थानीय लोगों के मुताबिक यह रहने वाली लड़कियां रात रात भर गायब रहती थी। बालिका गृह में बहुत से लोग लड़कियों से मिलने आते थे, साथ ही रात को भी और लड़कियां बाहर भी जाती थी।। इसकी शिकायत करने पर कोई कार्रवाई नहीं की जाती थी। स्थानीय लोगों का आरोप है की, इस बालिका गृह के वजह से आस पास का माहौल भी खराब हो रहा था। लोगों के अनुसार रात तक लड़के यहां आते जाते रहते थे, और दिन में भी लड़को जमाबड़ा लगा रहता था ।

10 महीने से लापता है लड़कियां

प्राप्त सूचना अनुसार 5 अक्टूबर 2017 से ही 2 लड़कियां लापता थी, जिसमे से एक अनुराधा महाराष्ट्र के ठाणे की रहनी वाली थी । जबकि दूजा कुमारी यूपी के देवरिया की रहने वाली थी। दोनों की गुमशुदगी का सन्हा नगर थाना में दिया गया था, पूर्व में भी यहां से कई शिकायते आती रहती थी। लोगों का आरोप हैं की, शिकायत के बाद भी प्रशासन की तरफ से वहा काम कर रहे एनजीओ और कर्मचारियों पर कोई कार्रवाई नहीं की गई हैं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here