जीएल और हरिहरनाथ एक्सप्रेस चलाने की मांग

0
1540

कटिहार । सहरसा कटिहार रेलखंड पर ट्रेनों की कमी के कारण लोग खुद को उपेक्षित महसूस कर रहे हैं । लोगो का आरोप हैं कि जब बड़ी लाइन बनी तो पहले से चली अा रही ट्रेनों को भी बंद कर दिया गया । ये मांग कर रहे है कोशी कि लाइफ लाइन माने जाने वाली ट्रेन हरियरनाथ एक्सप्रेस और जीएल एक्सप्रेस को फिर से चलाया जाए । सहरसा कटिहार के बीच ट्रेनों की मांग करते यात्रा ने कहा कि आज की स्तिथि ये है कटिहार और सहरसा के बीच 1 जानकी एक्सप्रेस ही है जो रोजाना अप-डाउन करती है सहरसा से दिन के 11 बजे और कटिहार से रात को 11 बजे है ये कैसी सुविधा है,इसके अलावे पूर्णिया ज• से मेल के रूप में जोगबनी से आने-जाने वाली किसी भी डेमू या एक्सप्रेस ट्रेन का मेल सहरसा रूट के ट्रेनों के लिए नहीं है । इन्होंने ये भी कहा कि हमसफ़र एक्सप्रेस के उद्धघाटन के वक़्त सांसद पप्पू यादव ने जुलाई से 3 जोड़ी पैसेंजर ट्रेन सहरसा से कटिहार के बीच चलाने की घोषणा की थी ,लेकिन अभी तक नहीं चल सकी ।

जीएल और हरियरनाथ के बारे। में जानकारी ।

गुवाहाटी लख़नउ एक्सप्रेस पहले बछवाड़ा कॉर्ड लाइन होकर चलती थी और आमान परिवर्तन के कारण कई जगह और रूट से चली । हरिहर नाथ एक्सप्रेस नरकटियागंज से पहलेजा घाट तक रक्सौल दरभंगा बछवाड़ा मेन लाईन होकर चलती थी जीएल एक्सप्रेस गुवाहाटी लखनऊ चलती थी छोटी लाइन में धीरे धीरे छोटी लाइन खत्म होने के कारण समस्तीपुर सिलीगुड़ी रह गयी लेकिन कोशी के बाढ़ के बाद बंद कर दिया गया । सहरसा से कटिहार के बीच 5 जोड़ी ट्रेन चलाने की मांग की गई है ।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here