गया-किउल दोहरीकरण कार्य मे आयी तेजी,पहले चरण में मानपुर से वजीरगंज तक इसी महीने दौड़ेगी रेल

0
793

किउल से गया तक रेलवे द्वारा दोहरीकरण कार्य तेजी से किया जा रहा है। 125 किमी लंबे इस रेलखंड पर दोहरीकरण होने से ट्रेनों की रफ्तार बढ़ेगी इसके साथ ही इन क्षेत्रों का तेजी से विकास भी होगा। 1235 करोड़ की लागत से इस रेलखंड पर दोहरीकरण का कार्य 2020 के अंत तक पूरा कर किया जाएगा। इस वित्तीय बजट में इस परियोजना के लिए केन्द्र ने 300 करोड़ रुपये की राशि मंजूर की है। पहले चरण में मानपुर से वजीरगंज तक अगस्त के महीने में कार्य पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।

चार चरणों मे होगा दोहरीकरण का कार्य।

इस परियोजना के पूरे होने से उत्तर बिहार से मुंगेर पुल होकर जाने वाली ट्रेनों की गति भी बढ़ेगी और यात्रियों को लाभ भी होगा। पहले चरण में 18.15 किमी दोहरीकरण का कार्य अगस्त 2019 तक पूरा कर लिया जाएगा। इसके बाद बचें हुए कार्य को भी तेजी से पूरा किया जाएगा। अभी तक रेलवे द्वारा 70 किमी तक मिट्टी भरने का कार्य और 85 किमी तक ब्लैकटिंग का कार्य पूरा कर लिया गया है। इस परियोजना के पूर्ण होते ही दीनदयाल उपाध्य जंक्शन जाने वाले यात्रियों को लाभ होगा।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here