बिहार में बाढ़ राहत को लेकर गुजरात में बसे बिहारियों की बड़ी पहल, दस दिनों तक डोनेशन कैंप आयोजित कर ट्रेन से बिहार के लिए भेजी गयीं बाढ़ राहत सामग्री।

0
472

बिहार में फैले बाढ़ का पानी जैसे जैसे उतरने लगा है, राहत सामग्री और पुनर्वास की जरुरत नजर आने लगी हैं। सरकारी स्तर पर सहायता राशि और कई तरह की जरूरत कि सामग्री उपलब्ध कराई जा रही है, साथ ही कई गैर सरकारी संगठन भी इस राहत कि मुहिम मे बढ़चढ़ कर आगे आ रहे है। इसी कड़ी में बिहार से बाहर रह रहे बिहारी भी सहायता के लिए आगे आयें हैं, जिनके द्वारा चलाये गयें डोनेशन कैंप से एकत्रित राशि से एकत्र राहत सामग्री ट्रेन द्वारा दरभंगा भेजा गया।

गुजरात में बसे रिषीकेश सिंह और रामपाल सिंह ने निभाई अग्रणी भूमिका।

इस मुहिम के तहत रिषीकेश सिंह और रिलायंस में डीजीएम पद पर कार्यरत रामपाल सिंह ने पूरे डोनेशन कैंप कि रूपरेखा को तैयार किया।

इसके तहत गुजरात में बिहार निवासियों कि एक टीम का गठन किया गया, जिसमें ब्यूरो क्रेट सर्विस सेक्टर से जुड़े लोगों को जोड़ा गया। तकरीबन दस तीनों तक चलें इस कैंप के जरिए एकत्रित धन राशि के जरिए खाद्यपदार्थ, कपड़ा दवाई जैसी बेसिक चीजों को उत्तर बिहार के लोगों के लिए अहमदाबाद से दरभंगा तक चलने वाली साबरमती एक्सप्रेस के जरीए, बिहार रवाना किया गया।

8 अगस्त को दरभंगा पहुंची ट्रेन।

वहीं राहत वितरण के लिए उत्तर बिहार की कोर्डिनेशन का गठन दरभंगा में हुआ। बिहार कि टीम में श्री रवि परमार (आईएएस प्रिंसिपल सेक्रेट्री), श्री विनय शंकर (एसीजेएम दरभंगा) , श्री डीके सिंह (आईएएस) और मनीष पांडे (नगर अध्यक्ष एमएसयू) शामिल रहे। राहत सामग्री से भड़ी ट्रेन 07 अगस्त दरभंगा पहुंची, जिसे बाद बिहार टीम द्वारा दरभंगा, मधुबनी, सीतामढ़ी सहित अन्य जिलों के लिए रवाना किया गया।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here