इंग्लैंड को 2-1 से हराकर पहली बार फाइनल में पहुंचा क्रोएशिया

0
328

फुटबाल अनिश्चिताओं का खेल है।इस विश्व कप में बड़ी से बड़ी टीम पहले ही हारकर बाहर हो चुकी थी। इंग्लैंड और क्रोएशिया के बीच खेले गए मुकाबले में किसी को उम्मीद नहीं थी कि इंग्लैंड सेमीफाइनल में हार कर बाहर हो जाएगा। फाइनल में पहुंचने वाली 13 वा देश बना क्रोएशिया। 15 जुलाई को क्रोएशिया का मुकाबला फ्रांस के साथ होगा। क्रोएशिया 1950 के बाद फाइनल में पहुंचने वाला सबसे छोटा देश है। कोरशिया की कुल आबादी मात्र 40 लाख है और फाइनल में जगह बनाने वाला सबसे कम रैंकिंग (20) वाला देश भी बना।


मशहूर फुटबॉल प्लेयर डेविड बेकहम ने अपनी इंस्टा स्टोरी पर एक विडियो शेयर किया है। इसमें इंग्लैंड के आसमान में प्लेन उड़ रहे हैं। प्लेनों ने मिलकर ‘इट्स कमिंग होम’ बना दिया। जाहिर सी बात है इंग्लैंड की टीम के साथ ही वहां की जनता को भी उम्मीद थी कि वर्ल्ड कप अब उनके देश के हिस्से ही आने वाला है। लेकिन अफसोस कि यह हो न सका।

निर्धारित समय तक दोनों टीमें 1-1 की बराबरी पर रहीं और अतिरिक्‍त समय में मैच का फैसला हुआ खेल के 109वें मिनट में क्रोएशिया का मांडजकिक ने निर्णायक गोल दागा. खेल के पांचवें मिनट में इंग्‍लैंड के ट्रिपियर ने फ्री-किक पर गोल करके इंग्‍लैंड को बढ़त दिलाई थी. लेकिन 68वें मिनट में क्रोएशिया के पेरिसिक ने गोल करते हुए मुकाबला बराबरी पर ला दिया.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here