मुगलसराय बना देश का पहला विद्युतीकरण रेल मंडल,इलेक्ट्रिक इंजन से होता है ट्रेनों का परिचालन

0
357

देश का पहला विद्युतीकरण रेल मंडल मुगलसराय मंडल बन गया है। बताते चलें कि पूर्व मध्य रेल परिचालन क्षमता में वृद्धि के लिए रेलखंडों का विधुतीकरण कार्य काफी तेजी से किया जा रहा है। अप्रैल 2018 से अभी तक 790 रूट किलोमीटर का विधुतीकरण किया जा चुका है।

विधुत इंजन से ट्रेन परिचालन सुगम

मालूम हो कि पूर्व मध्य रेल का मुगलसराय मंडल ना केवल पहला विद्युतीकरण मंडल बना है। बल्कि इन रेलखंडों पर डीजल इंजन के बजाय विधुत इंजन से ट्रेन चलने से रेल परिचालन काफी सुविधाजनक हो गया है। साथ ही ये पर्यावरण संरक्षण में भी मददगार साबित हो रहा है। विद्युतीकरण होने से डीजल खरीदने में लगने वाली कीमती विदेशी मुद्रा की भी बचत होगी।

इन रेलखंडों पर चल रही इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेन

विद्युतीकरण कई मायनों में लाभप्रद है। जैसे इससे ट्रेनों की स्पीड बढ़ जाती है। ट्रेन अपने निर्धारित समय पर रवाना की जाती है। वहीं जिन रेलखंडों पर विद्युतीकरण का कार्य चल रहा है वो गया-आरा-सासराम, मुजफ्फरपुर-नरकटियागंज-वाल्मिकीनगर, सुगौली-रक्सौल, फतुहा-इस्लामपुर, दनियांवा-बिहारशरीफ, कोडरमा-हजारीबाग समेत अन्य रेलखंड पर इलेक्ट्रिक लोको से ट्रेन का परिचालन शुरू हुआ है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here