खतरे की घंटी !! बिहार समेत पूरे उत्तर भारत में मंडरा रहा है खतरा,आने वाला है बड़ा भूकंप। वैज्ञानिकों की चेतावनी, विस्तार से जाने क्या है पूरा मामला ।

0
5094

पटना: हम उस खतरे को नजरंदाज कर रहे है जो कभी भी देश में तबाही मचा सकता है । वैज्ञानिकों की मानें तो हिमालय में कभी भी बड़ा भूकंप आ सकता है, जिसकी तीव्रता 8.5 रिक्टर स्केल या उससे भी अधिक हो सकती हैं। वैज्ञानिकों ने कहा है की हम 2018 में बड़ी तीव्रता वाले भूकंप के चरण में प्रवेश कर चुके है, कभी भी हिमालय से बड़ी तबाही वाला भूकंप के झटके महसूस किया जा सकता है। क्या हम इसके लिए तैयार है,तो जवाब होगा बिल्कुल भी नहीं। आपको बता दे अगर बिहार में इस तीव्रता का भूकंप आया, तो इसके जद में पूरा बिहार आ जाएगा, सरकार और हमारा सिस्टम इसके लिए बिल्कुल भी तैयार नहीं। लाखों लोगों की जाने भी जा सकती है, अगर हम सचेत न हुए तो। हमारे यहां ना तो भूकंप रोधी घर बने है, ना सुरक्षा के कोई उचित मापदंड हैं। यहां तो जितनी बड़ी इमारतें खड़ी हो जाए बस, बाकी चीजों की परवाह कौन करे। सरकार को प्रत्येक जिलों में सभी भवनों की जांच करानी चाहिए, ताकि तबाही को कम किया जा सके ।

बिहार समेत उत्तर भारत होगा भूकंप की जद म़े

बेंगलुरु स्थित जवाहर लाल नेहरू सेंटर फॉर एडवांस साइंटिफिक रिसर्च के भूकंप वैज्ञानिक पी राजेन्द्र ने कहा है, की हिमालय के क्षेत्र में काफी तनाव जमा हो चुका है। जो कभी भी 8.5 तीव्रता या उससे भी अधिक तीव्रता वाला भूकंप ला सकता है। शोध से पता चला है की, जब भी दिन की लंबाई में बदलाव आता है तो ज्यादातर बड़े भूकंप इक्वेटर के पास आते है। बिहार समेत उत्तरप्रदेश, बंगाल, नॉर्थ ईस्ट, दिल्ली, हिमाचल उत्तराखंड, कश्मीर हिमालय की जद में आते है। यहां नेपाल में 2015 में आए 7.8 तीव्रता वाले भूकंप से भी ज्यादा बड़ा भूकंप आने का अंदेशा दुनिया भर के वैज्ञानिकों ने लगाया है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here