पथ निर्माण विभाग नयी तकनीक से शुरू करेगी व्यवस्था, ड्रोन कैमरे से किया जाएगा सड़को की निगरानी।

0
739


पटना : राज्य के जर्जर सड़को को लेकर की गई गलत रिपोर्ट पर अब कोई और बहाना नहीं चलेगा। पथ निर्माण विभाग ने इसको लेकर कमर कस लिया हैं। बता दें कि अब हर हफ्ते ड्रोन से ली गई तस्वीर विभाग को उपलब्ध करायी जाएगी । सड़को की स्थिति के निरीक्षण को लेकर विभाग डिजिटल तकनीक से जोड़कर यह व्यवस्था करने जा रहा है।

मेंटेनेंस पॉलिसी के तहत आयेगी सड़के

मालूम हो कि 14 हजार किमी स्टेट हाइवे को सड़क की निगरानी से जोड़ा जा रहा हैं। जिसे अगले माह से शुरू होने जा रहे मेंटेनेंस पाॅलिसी(रखरखाव-नीति) की परिधि में इन सब सड़को को लिया गया हैं, जहाॅ निगरानी की पूरी व्यवस्था डिजिटल सिस्टम के द्वारा विभाग के अंतर्गत काम करेगा। साथ ही विभाग को सड़को की बड़ी तस्वीर हमेशा उपलब्ध कराता रहेगा जिसे रखरखाव के लिए निर्माण एजेंसी को दिया गया है। वैसे उम्मीद की जा रही है कि सिस्टम पूर्ण रूप से मशीन पर ही आधारित हो। सिस्टम के बारे में पथ निर्माण विभाग का कहना है कि इसमें सेंसर्स और स्वचालित सिस्टम का भी प्रयोग किया जाएगा। साॅफ्टवेयर का उपयोग कर यह देखा जा सकेगा कि कितने दिनो में सड़क की मरम्मत हुई हैं। जहाॅ सड़को की गुणवत्ता की जांच के लिए स्वचालित मशीन को काम मे लाया जाएगा ।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here