संक्रमित मशीन से डायलिसिस कर रोगी को हैपेटाइटिस C संक्रमित करने के आरोप मे पारस हॉस्पीटल दरभंगा प्रबंधन और अन्य पर मुकदमा दर्ज।

0
1722

दरभंगा हराही पोखर निवासी मरीज सोनी झा जिनका इलाज विगत 2 वर्षों से पारस हॉस्पीटल दरभंगा मे हो रहा था उनको संक्रमित मशीन द्वारा डायलिसिस कर हैपेटाइटिस C से संक्रमित करने के आरोप मे सीजेएम राज कुमार चौधरी के न्याययालय मे मुकदमा दर्ज हुआ है। शिकायतकर्ता कुमार अभिषेक मरीज सोनी झा के भतीजे हैं और उनका आरोप है की किडनी प्रत्यारोपण के नाम पर 50 लाख की मांग और फिर संक्रमित मशीन द्वारा डायलिसिस कर मरीज को खतरनाक संक्रमित बिमारी हैपेटाइटिस C से संक्रमण करने के विरुद्ध अपराधिक मामला दर्ज हुआ है, ज्ञात हो कि इससे पहले भी इसी मामले में मरीज के परिजन और शिकायतकर्ता सिविल सर्जन कार्यालय में भूख हरताल पर भी बैठे थे। शिकायतकर्ता ने अपने अभियोग पत्र मे संदीप घोष, डा. अब्दुल वहाब, खुशबू दयाल, अनुराधा गोस्वामी, धर्मेन्द्र नागर एवं अन्य पर अपराधिक मामला दर्ज हुआ है। इस केस की पहली तारीख 9 अगस्त 2019 को है।

इस पूरे प्रकरण मे ध्यान देने योग्य कुछ प्रमुख घटनाक्रम-

●पारस हॉस्पीटल दरभंगा को पूरे प्रक्रिया मे जानकारी देने पर हॉस्पीटल प्रबंधन की निष्क्रियता।

●सिविल सर्जन को शिकायत करने पर 15 दिन तक कोई करवाई नहीं।

● निष्क्रियता देख भूख हड़ताल पर मरीज के परिजन के बैठने की याचिका जमा की, एक कौपी डी एम दरभंगा को भी जमा किया, तुरंत जांच कमिटी का गठन।

●भूख हड़ताल पर बैठते आनन फानन मे जांच कमिटी की रिपोर्ट प्रेषित, आगे जांच की अनुशंसा।

●2 महीने हो गए, प्रिंसिपल सेक्रेटरी स्वास्थय विभाग द्वारा अभी तक जांच कमिटी का गठन तक नहीं हुआ। पीड़ित न्याय की गुहार लगाते कोर्ट के शरण में।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here