लगातार बारिश से उफनाई नदियां। नालंदा, छपरा, सीवान, गोपालगंज, बेगूसराय के कई प्रखंडों मे घुसा पानी।

0
748

नेपाल क़े तराई क्षेत्र सहित बाल्मिकी और झारखंड क़े तिलैया बांध से लगातार छोड़ें जा रहे पानी से सिवान, गोपालगंज, सारण, बिहारशरीफ, नालंदा सहित कई इलाकों क़े निचले इलाकों में बाढ़ की स्थिति आ गयी है। फिलहाल रुक रुक क़े हो रहे बरिश से नदियो मे उफान जारी है, बेगूसराय में जहां कई प्रखंड में पानी आ गया है। वहीं गोपालगंज में गंडक उफान पर है, गोपालगंज मे जल स्तर में लगातार वृद्धि से कई जगह पानी घूस गया है।

सरयू नदी खतरे के निशान से ३.२० सेंटीमीटर उपर पहुँची

बिहारशरीफ़ की बात करें, तो झारखंड क़े तिलैया बराज से लगातार पानी छोड़ें जाने के कारण बिहारशरीफ़ के बाहरी इलाकों में जल जमाव हुआ पड़ा है। सारण मे भी कमोबेश वहि हालात है, यहां भी सरयू नदी के जल सतर मे वृद्धि दर्ज किया गया है। सरयू नदी के कारण ना सिर्फ सारण, बल्कि बिहार सें सटे उत्तर पर्देश के सीमावर्ती इलाकों में जन जीवन बेहाल है। किसानो की बात करे, तो इन इलाकों के किसानोंं की मक्के और धान कि फसल को भारी नुक्सान पहुँचा है। वही सराण जिले से सटे सिवान में सरयू नदी खतरे के निशान से ३.२० सेंटीमीटर तक उपर बह रही है। सारण के आयुक्त द्वारा तटबंधों का निरीक्षण करने के बाद आधिकरियो को हालत पे नजर बनये रखने के आदेश दिये गया है।

कोसी के कई इलाको मे फैला पानी

उतर बिहार की बात करे तो नेपाल के तराई इलको मे हो रही बरिश से, कोसी नदी मे भी पानी के स्तर मे चढ़ाव दर्ज किय गया है। जलस्तर के बढ़ने के कराण सुपौल के कई गावों मे बाढ़ के पानी के फैलाव की खबर है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here