रिश्वत लेने के जुर्म में कैमूर की बीडीओ गिरफ्तार ।

0
564

कैमूर कैमूर जिले के रामपुर ब्लॉक में एक महिला बीडीओ को कुरारी पंचायत के मुखिया सतेंद्र कुमार सिंह से 1.15 लाख रुपए घूस लेने के आरोप में रामपुर ब्लॉक स्थित उनके सरकार आवास से गिरफ्तार किया गया। 57 वर्षीय अधिकारी वर्षा तरवे जो गया की रहने वाली थी, रामपुर ब्लॉक के कूरारी पंचायत में नीतीश कुमार के 7 निश्चय योजना के तहत गांव के सभी घरों में साफ पानी पहुंचाने के लिए बिछाई जाने वाली पाइप लाइन की सहमति देने के एवज में रिश्वत की मांग की थी। विजिलेंस की टीम जिसका नेतृत्व डीएसपी कनिष्क कुमार सिंह कर रहे थे, ने बीडीओ के घर छापा मारकर 1.15 लाख रूपए बरामद किए। साथ ही इसके अलावा 1.7 लाख राशि भी मिली जिसकी जांच चल रही है। डीएसपी सिंह ने बताया कि बीडीओ को गिरफ्तार करने के बाद अतरिक्त मिले रुपए की जानकारी पूछी गई तो बीडीओ ने कोई जवाब नहीं दिया

गांव के मुखिया ने शिकायत दर्ज कराई

गांव के मुखिया सतेंद्र कुमार सिंह ने विजिलेंस विभाग पटना में 12 जुलाई की बीडीओ के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। मुखिया ने कहा कि सात निश्चय योजना के तहत गांव में साफ पानी पीने के लिए बिछाने वाली पाइपलाइन के लिए बीडीओ 5 प्रतिशत कमीशन के रूप में मांग रही है। विभाग ने संबंधित शिकायत दर्ज कर बीडीओ के घर छापेमारी की जहा से दी गई राशि मिल पाई । मुखिया ने कहा कि इस प्रोजेक्ट की कुल रकम 23 लाख इंजीनियर्स द्वारा रखी गईं थीं, जिसका 5 प्रतिशत बीडीओ ने मांगा था। इसके आलावा पंचायत सेक्रेटरी ने भी रिश्वत की मांग की थी ।

पंचायत सेक्रेटरी भी शामिल

डीएसपी ने कहा कि शिकायत मिलने के बाद से ही विभाग हरकत में आ गई थी। 14 जुलाई से विभाग शुरुवाती जांच में जुट गई थी और रकम की डिमांड की बात को सही पाया, बीडीओ के साथ साथ पंचायत सेक्रेटरी ने भी रकम की मांग की थी। दोनों ने 31 जुलाई की मुखिया से 1.15 लाख की रिश्वत ली, लेकिन पंचायत सेक्रेटरी को गांव के लोगो के काम से शहर के बाहर जाना पड़ा। क्षेत्र से क्षबाहर होने के कारण फिलहाल पंचायत सेक्रेटरी को गिरफ्तार नहीं किया जा सका हैं। डीएसपी ने कहा है की पंचायत सेक्रेटरी के खिलाफ विभाग के पास पुख्ता सबूत मौजूद है और उनकी गिरफ्तारी जल्द होगी।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here