पटना हाईकोर्ट द्वारा राज्य में दूसरे एम्स के लिए जमीन देने की मांग के बीच बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने दरभंगा में एम्स निर्माण की बात कही

0
1815

दरभंगा में प्रस्तावित एम्स निर्माण पर गहराए संकट अब दूर होते नजर आ रहे है। दो दिन पहले पटना हाइकोर्ट ने राज्य सरकार से बिहार में दूसरे एम्स के निर्माण में हो रही देरी पर राज्य सरकार से जबाब मांगा है। आप को बता दे की सोमवार को जस्टिस शिवाजी पांडे और जस्टिस पार्थसारथी की खंडपीठ ने रंजना कुमारी द्वारा दायर 2015 में प्रस्तावित बिहार में दूसरे एम्स के निर्माण को लेकर हो रही देरी पर जबाब मांगा है। पटना हाईकोर्ट ने राज्य में दूसरे एम्स निर्माण के लिए राज्य सरकार से जमीन देने की मांग की है। केंद्र सरकार ने दूसरे एम्स के लिए 1600 करोड़ खर्च करने की बात कही है। वही राज्य सरकार ने डीएमसीएच को बिहार के दूसरे एम्स में बदलने की बात कही।

रंजना कुमारी ने याचिका में कहा डीएमसीएच को एम्स में परिवर्तित करने से आएगी मेडिकल सीटों में कमी।

पटना हाईकोर्ट में दायर याचिका में कहा गया है कि दरभंगा मेडिकल कॉलेज को एम्स में परिवर्तित करने से राज्य की मेडिकल सीटों में कमी आएगी। कोर्ट ने बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं और बेहतर शिक्षा के लिए दूसरे एम्स निर्माण के लिए खाली जमीन उपल्बध कराने के बारे में हलफनामा देने का आदेश राज्य सरकार को दिया है।

संजय झा ने दरभंगा में एम्स खोलने की मांग की।

मंगलवार को बिहार सरकार से दरभंगा में एम्स निर्माण को लेकर बिहार के जल संसाधन मंत्री संजय झा ने अपने फेसबुक के पेज पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से दरभंगा में एम्स निर्माण को लेकर अनुरोध किया और अपनी बात कही है।

बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने दरभंगा में एम्स खोलने की बात कही।

मंगलवार को पटना पहुचें बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा की दरभंगा में एम्स का निर्माण होकर रहेगा। उन्होंने कहा कि बिहार केंद्र सरकार की टॉप प्रायोरिटी पर रहेगा। उन्हीने कहा कि मोदी सरकार ने दरभंगा में एम्स खोलने की घोषणा की है तो वो खुल कर रहेगा।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here